मणिपुर: पुलिस शस्त्रागार से गुम हुए हथियार मामले में कांग्रेस विधायक गिरफ्तार

राष्ट्रीय जांच एजेंसी अर्थात एनआईए ने पुलिस महानिदेशक के शस्त्रागार से गुम हुए असलहों से जुड़े एक मामले में मणिपुर के एक कांग्रेस विधायक यामथुंग हाओकिप को गिरफ्तार किया है.

इसके साथ ही एनआईए ने मणिपुर के चरमपंथी नेता डेविड हैंगशिंग को भी गिरफ्तार कर लिया है जिसको कथित रूप से विधायक ने गुम हुए हथियार दिए थे.

एनआईए ने अपने एक बयान में कांग्रेस विधायक की गिरफ्तारी की पुष्टि करने के साथ ही 24 अगस्त को चरमपंथी नेता को भी गिरफ्तार करने बात कही है.

यामथोंग हाओकिप मणिपुर की साइकुल विधानसभा सीट से कांग्रेस की टिकट पर पहली बार 2012 में विधायक चुने गए थे. साल 2017 में एक बार फिर वे इसी सीट से विधायक चुने गए.

दरअसल साल 2016-17 में राजधानी इंफाल के द्वितीय मणिपुर राइफल्स बटालियन परिसर में स्थित पुलिस महानिदेशक के शस्त्रागार से 56 पिस्तौल और 58 मैगजीन गुम हुई थीं.

जुलाई के आखिर में एनआईए ने साइकुल स्थित विधायक यामथुंग के घर पर छापेमारी कर हथियार और गोला बारूद बरामद किया था, जिसमें डीजीपी के शस्त्रागार से चोरी हुए असलहे भी मिले थे.

विधायक यामथुंग को  गिरफ्तार करने के बाद एनआईए की विशेष अदालत में पेश किया गया और उन्हें 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

एनआईए के बयान में इस बात का जिक्र है कि विधायक यामथुंग ने चरमपंथी संगठन कुकी रिवोलुशनरी आर्मी (केआरए) के अध्यक्ष डेविड हैंगशिंग को शस्त्रागार से गुम हुए कुछ पिस्तौल दिए थे. मणिपुर में सक्रिय केआरए एक भूमिगत चरमपंथी संगठन है लेकिन इस समय भारत सरकार के साथ एक समझौते के तहत संघर्ष विराम में हैं.

बीती 30 जुलाई को विधायक के घर पर छोपेमारी के दौरान एनआईए के हाथ पांच पिस्तौल लगी थीं, जिनमें से 18506735 वाली 9एमएम की एक पिस्तौल डीजीपी के शस्त्रागार की पाई गई थी.

मणिपुर सरकार ने राज्य के सुरक्षा बलों के इस्तेमाल के लिए 11 सितंबर 2014 को 9एमएम वाली 570 पिस्तौल का जखीरा खरीदा था। चोरी का यह मामला इसी वर्ष 30 मार्च को तब सामने आया था जब बटालियन के कमांडर ने हथियारों और गोला बारूद की पड़ताल की थी.

घटना के तुरंत बाद एक कुकी चरमपंथी और फर्स्ट मणिपुर राइफल्स के दो जवानों को गिरफ्तार किया गया था. मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने इसे राष्ट्रीय सुरक्षा में सेंध मानते हुए एनआईए को मामला सौंपने की घोषणा की थी.

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक एनआईए ने चरमपंथी संगठन यूनाइटेड कुकी लिबरेशन फ्रंट के प्रमुख सोसोन हाओकिप के घर से गुरुवार को नौ 9एमएम पिस्तौल बरामद की थीं.

जांच में यह बात सामने आई थी कि कुछ पिस्तौल सोसोन हाओकिप को दी गई थीं. एनआईए की जांच जारी है और अब तक अलग-अलग अरोपियों के पास से कुल 14 पिस्तौल बरामद की जा चुकी हैं.

शेयर करें
  • 4
    Shares

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here